सांसद वरुण गांधी ने पीएम मोदी को भेजा पत्र, कहा- एमएसपी और अन्य मुद्दों पर भी हो तत्काल निर्णय

बरेली । कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के बाद उन्हीं के चचेरे भाई तथा पीलीभीत से भाजपा सांसद वरुण गांधी ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तीन कृषि कानूनों को वापस लिए जाने की घोषणा का स्वागत करते हुए उन्हें पत्र लिखा है। उन्होंने पत्र में एमएसपी पर कानून बनाने की मांग और अन्य मुद्दों पर भी अब तत्काल निर्णय लिए जाने की मांग की है। सांसद पिछले कुछ समय से किसानों के मुद्दों को लेकर लगातार सक्रिय रहे हैं।
भाजपा सांसद ने शनिवार को ट्वीट करके कृषि कानूनों की वापसी का घोषणा का स्वागत करने के साथ ही प्रधानमंत्री को भेजा अपना पत्र भी साझा किया है। पत्र में उन्होंने लिखा कि तीन कृषि कानूनों के निरस्तीकरण और फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य की वैधानिक गारंटी की मांग को लेकर पिछले एक साल से किसानों का विशाल आंदोलन देश भर में चल रहा है। आपने बड़ा दिल दिखाते हुए इन कानूनों को निरस्त करने की घोषणा की है। उसके लिए साधुवाद देते हुए सांसद ने कहा कि एक साल में अत्यंत कठिन परिस्थितियों में धरना देते हुए इस आंदोलन में सात सौ से ज्यादा किसानों की जान चली गई। यह निर्णय पहले ही ले लिया जाता तो इतनी बड़ी जनहानि नहीं होती।
उन्होंने आंदोलन के दौरान जान गंवाने वाले किसानों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए उनके स्वजन को एक-एक करोड़ रुपये का मुआवजा भी दिया जाए। आंदोलन के दौरान किसानों को प्रताड़ित करने के लिए जितनी भी फर्जी एफआईआर दर्ज हो गई हैं, उन्हें तत्काल निरस्त किया जाना चाहिए। सांसद ने कहा कि किसानों की दूसरी मांग एमएसपी को कानूनी रूप से बाध्यकारी बनाने से संबंधित है। देश में 85 फीसद से ज्यादा छोटे, लघु और सीमांत किसान हैं। इन किसानों के सशक्तिकरण के लिए फसलों का लाभकारी मूल्य दिलवाना सुनिश्चित करना होगा।

शेयर करें